bewafa shayari in hindi new

bewafa shayari in hindi



वक़्त से परे कही पड़ी है, हमारी इक मुलाक़ात बाकी।

खत में करें सब कैसे बयां, मिली तो बताएं हालात बाकी।।




bewafa shayari in hindi new 2021

अगर मगर में नज़र भी रह गई प्यासी।

लबी ने हरकत की तो, झुक गई पलकें दासी।।



bewafa shayari in hindi new


कहकशांओं की गर्दिश और सितारों की जुम्बिश से आगे।

अंतराल में सम्पूर्णता लिए है, उसकी आंखो का झपकना ।।




bewafa shayari in hindi new

तारे टूटते हैं ख्वाहिशें पूरी करने

या ख़्वाहिशों का बोझ तोड़ देता है उन्हे??





bewafa shayari in hindi new

अपने हिस्से की धूप छांव तुम्हारे कदमी में रख दी।

इसे जियादा, और क्या वक़्त बिताता तुम्हारे संग ।।



bewafa shayari in hindi new image

गुमसुम झीलें खिलखिलाकर हस पड़ती है।

उसके कोमल पैरो की इक थापी पाकर ।।






bewafa shayari in hindi new image

जवाब न सही आँखो से कोई इशारा तो कर,

गर साथ मुनासिब नहीं, तो मेरा कोई और सहारा तो कर।।




bewafa shayari in hindi new image

मरने को मैं मर भी सकता था।

जिया ताकि तेरी कसमें सांस ले सकें।



bewafa shayari in hindi new image

उसकी तस्वीर दो घड़ी देख लूँ तो।

लगता है, अभी वो ज़हन पढ़ लेगा मेरा।।


ये आंखो में तुम्हारे पानी कैसा है।

वजह फिर कोई फांस हो गई है क्या।।






bewafa shayari in hindi new image

उस आफताब-ए-निगाह में हिद्दत कितनी हैं

मुझ माहताब अधूरे पे भी ज़ी पूरी रखता है।।





bewafa shayari in hindi new image

तुम जब चाहो, अंधेरा कर दो, जब चाहे कर दो सवेरे,

मेरे हिस्से के सूरज चंदा सितारे सब तुम्हारे है।।




bewafa shayari in hindi new image

पीपल पे बंधा मन्नत का धागा,

झील में फेंकी चाबी।

मैं नहीं ला सकता वापस,

तुम्हे आना ही होगा ।






bewafa shayari in hindi new image

रंग बदलते हैं चेहरे, रूह सदा ही बेरंग रहती है।

रंग जा तेरे रंग, तेरे बिन होली बेढ़ग रहती है।।



bewafa shayari in hindi new image

उछला रंग और उजली रंगत।

लम्स गालों पे और पूरी मन्नत।।







bewafa shayari in hindi new image

हाथ फैलाकर तुझे जब रब से मांगा

हुआ कोलाहल ऐसा, जैसे तुझे सब से मांगा।।




bewafa shayari in hindi new image

मौन है जुबां मन शोर करता है।

जिधर नाम तेरा, उस ओर चलता है।।

बिस्तर रहता है, ज्यो का त्यो ही।

सपने देखने वाला, हर भोर सम्हलता है।।




bewafa shayari in hindi new image
bewafa shayari in hindi new image

वो जब भी देखता है मुझमें मीन-मेख देखता है।

फ़क़त इश्क़ है, कैसे वो मुझमें ऐब अनेक देखता है।।






bewafa shayari in hindi new image

एक ही बात के कितने मतलब निकलते है।

दिलासा देकर लोग दखाजे से हसकर निकलते है।।

एक अरसे की उदासी का ये सबब है।

मेरी आंख के आंस, मुझसे बचकर निकलते है।।

मेरे यारों की गिनती कभी बढ़ी ही नहीं।

यूं तो अजनबी कई मुझसे गले लगकर निकलते है।।

किस पे भरोसा करें, किसे बनाए अपना राज़दार।

हथेली पे जो जां जैसे, वहीं अकब निकलते है।।

साकी जाम से जियादा नशा उनकी आंखो में।

जी नज़र भर रहे, बन के अकबर निकलते है।।

यार-ए-अभी कितने ही अथक प्रयास कर लूं मैं।

जब बारी वफ़ा कि हो, परिणाम कमतर निकलते हैं।।



bewafa shayari in hindi new image

तुम अपने में ही साज़-ए-ख़ाना ।

तुम्हारी हर अदा में मौसीक़ी है ।।.


bewafa shayari in hindi new image

मैं कहां कह रहा हूँ,

शब्दो को तोड़-मरोड़कर

कुछ लिखी मेरे लिए,

कुछ कहो मुझ से,

तुम बस खुल के हंसा करी

मेरे साथ, मेरे लिए ग़ज़ल होगी।।








bewafa shayari in hindi new image0

आबगीने नहीं दिखाते है हर चेहरा

तभी मन को दर्पण होता है ।


bewafa shayari in hindi new image

इश्क़ का पीछा भी न होगा तुमसे

तुम बहुत तेज जो ठहरे ॥




bewafa shayari in hindi new image

इश्क़ की समझ, शायद तुम्हे जियादा है।

तुम तलहटी देख आये, मैं अब भी डूब रहा हूँ।।




bewafa shayari in hindi new image

आपको आप में देखने से अच्छा है, खुद में देखना।

अगर धोखा मिलता भी है तो, खुद से मिलता है ।।





bewafa shayari in hindi new image

वी फासले नहीं फैसले थे

जी दूरी की वजह बने ।



bewafa shayari in hindi new image
bewafa shayari in hindi new image new

यादो से कीमती हैं

वो शख्स जो भुलाया नहीं जाता।



2 comments:

HOW ARE YOU PLS REPLY feedback